एक ऐसा देश, जहां बीच रास्ते में गाड़ी का तेल खत्म हुआ तो मिलती है सजा

जर्मनी का नाम तो आपने सुना ही होगा। वही जर्मनी, जहां का तानाशाह हिटलर था, जिसकी वजह से द्वितीय विश्वयुद्ध हुआ था। वैसे तो द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान यह देश बिल्कुल कंगाल हो चुका था, लेकिन आज इसकी गिनती दुनिया के 10 सबसे ताकतवर देशों में की जाती है। इंजीनियरिंग के क्षेत्र में आज पूरी दुनिया में सबसे पहला नाम किसी देश का आता है तो वो है जर्मनी। इस देश से जुड़े और भी कई ऐसे रोचक तथ्य हैं, जिनके बारे में जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे। 

जर्मनी एक ऐसा देश है, जहां आप हाइवे पर जितनी मर्जी उतनी रफ्तार से गाड़ी चला सकते हैं, इसके लिए कोई सजा का प्रावधान नहीं है, लेकिन यहां बीच रास्ते में अगर आपकी गाड़ी का ईंधन खत्म हो जाता है तो इसे अपराध माना जाएगा। इसके लिए आपको सजा हो सकती है या जुर्माना लगाया जा सकता है। 

आमतौर पर भारत समेत कई देशों में लोग किसी को एडवांस (समय से पहले) में ही बर्थडे विश (जन्मदिन की शुभकामनाएं) कर देते हैं, लेकिन जर्मनी में ऐसा करना बैडलक माना जाता है। यहां लोग सिर्फ जन्मदिन के दिन ही किसी को बधाई या शुभकामना देते हैं। 

आमतौर पर लोग किसी को फोन करते हैं या फोन उठाते हैं तो सबसे पहले ‘हैलो’ ही बोलते हैं और उसके बाद बात करने शुरू करते हैं, लेकिन यहां के लोग फोन पर हैलो बोलने के बजाय सीधे अपना नाम बताकर ही बातचीत करना शुरू कर देते हैं। 

शायद आपको पता न हो, लेकिन दुनिया की सबसे पहली मैगजीन 1663 ईस्वी में जर्मनी में ही लॉन्च हुई थी। आपको जानकर हैरानी होगी कि सबसे ज्यादा किताबें छापने वाले देशों की सूची में जर्मनी का नाम भी शामिल है। यहां हर साल 94 हजार से अधिक किताबें छपती हैं।

दुनिया में सबसे ज्यादा चिड़ियाघर जर्मनी में ही मौजूद हैं। इसके अलावा दुनिया का सबसे ऊंचा चर्च भी यहीं पर है, जिसका नाम ‘उल्म मिंसटर’ है। इस चर्च की ऊंचाई करीब 530 फीट है। यह इतना बड़ा है कि इसमें दो हजार लोग एक साथ आराम से बैठ सकते हैं।  

Leave a Comment