जब शक्ति कपूर का रेप सीन देखकर सिनेमा हॉल में ही भड़क गई थीं उनकी मां, पिता ने लगाई थी फटकार

शक्ति कपूर का जन्म 3 सितंबर, 1952 को पंजाबी परिवार में दिल्ली में हुआ था। उन्होंने हिंदी सिनेमा जगत में 700 से ज्यादा फिल्में की हैं। इन फिल्मों में वे रेप सीन्स की वजह से ज्यादा मशहूर हुए थे। पहली बार एक्टर जब अपने माता-पिता को अपनी फिल्म ‘इंसानियत का दुश्मन’ दिखाने के लिए सिनेमा हॉल में ले गए तो इसमें एक्टर का रेप सीन देखकर उनके माता-पिता उन पर भड़क गए थे।

इसके बाद दोनों थिएटर से बाहर आ गए थे। शक्ति कपूर के पिता ने उनको खूब फटकार लगाई थी। पिता ने कहा था कि सिर्फ लड़कियों को छेड़ने का काम करते हैं। अच्छे रोल करें और हेमा मालिनी जैसी एक्ट्रेस के साथ काम करें।

इसके बाद दोनों थिएटर से बाहर आ गए थे। शक्ति कपूर के पिता ने उनको खूब फटकार लगाई थी। पिता ने कहा था कि सिर्फ लड़कियों को छेड़ने का काम करते हैं। अच्छे रोल करें और हेमा मालिनी जैसी एक्ट्रेस के साथ काम करें।

शक्ति ने फिल्म 'मेरे आगोश में' सबसे ज्यादा कॉन्ट्रोवर्शियल सीन दिया था। यह सीन इतना विवादित था कि कई महीनों तक सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को पास नहीं किया था।

शक्ति ने फिल्म ‘मेरे आगोश में’ सबसे ज्यादा कॉन्ट्रोवर्शियल सीन दिया था। यह सीन इतना विवादित था कि कई महीनों तक सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को पास नहीं किया था।

बता दें, शक्ति कपूर का आसली नाम सुनील सिकंदरलाल कपूर है। एक्टर को अपना ये नाम बिल्कुल भी पसंद नहीं था। इसी कारण उन्होंने अपना नाम बदल लिया था। शक्ति ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के किरोड़ीमल कॉलेज से पढ़ाई की थी।

बता दें, शक्ति कपूर का आसली नाम सुनील सिकंदरलाल कपूर है। एक्टर को अपना ये नाम बिल्कुल भी पसंद नहीं था। इसी कारण उन्होंने अपना नाम बदल लिया था। शक्ति ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के किरोड़ीमल कॉलेज से पढ़ाई की थी।

एक्टर ने शिवांगी कोल्हापूरे से लव मैरिज की थी। कहा जाता है दोनों कि मुलाकात फिल्म 'किस्मत' के सेट पर हुई थी। पहली मुलाकात में ही दोनों एक-दूसरे को दिल दे बैठे थे। शिवांगी, पद्मिनी कोल्हापूरे की बहन हैं।

एक्टर ने शिवांगी कोल्हापूरे से लव मैरिज की थी। कहा जाता है दोनों कि मुलाकात फिल्म ‘किस्मत’ के सेट पर हुई थी। पहली मुलाकात में ही दोनों एक-दूसरे को दिल दे बैठे थे। शिवांगी, पद्मिनी कोल्हापूरे की बहन हैं।

शक्ति कपूर विलेन के अलावा कॉमेडी रोल भी कर चुके हैं। उनकी कॉमेडी भी काबिले तारीफ है। उन्होंने गोविंदा के साथ 'राजा बाबू' फिल्म में कमाल की कॉमेडी की थी। इससे उनकी छवि में थोड़ा बदलाव जरूर आया था।

शक्ति कपूर विलेन के अलावा कॉमेडी रोल भी कर चुके हैं। उनकी कॉमेडी भी काबिले तारीफ है। उन्होंने गोविंदा के साथ ‘राजा बाबू’ फिल्म में कमाल की कॉमेडी की थी। इससे उनकी छवि में थोड़ा बदलाव जरूर आया था।

Leave a Comment