जब स्टिंग ऑपरेशन के तहत कास्टिंग काउच में रंगे हाथ पकड़े गए थे शक्ति कपूर, मांगनी पड़ी थी माफी

शक्ति कपूर का जन्म 3 सितंबर, 1952 को पंजाबी परिवार में दिल्ली में हुआ था। उन्होंने हिंदी सिनेमा जगत में 700 से ज्यादा फिल्में की हैं। इन फिल्मों में वे रेप सीन्स की वजह से ज्यादा मशहूर हुए थे। खलनायक के साथ-साथ उन्होंने कॉमेडी रोल के लिए काफी ख्याति बटोरी है। लेकिन उनके जीवन में एक बार ऐसी मुसीबत आन पड़ी थी जब वे स्टिंग ऑपरेशन के दौरान रंगे हाथ कास्टिंग काउच में फंसे थे। 

2005 का है मामला 

बॉलीवुड में कास्टिंग काउच को लेकर काफी सालों से बहस चल रही है। इसमें कहा जाता है कि फिल्म से जुड़े बड़े स्टार्स नए लोगों को मूवीज में रोल देने के लिए उनकी शोषण करते हैं। साल 2005 में कास्टिंग काउच के बढ़ते मामलों को लेकर स्टिंग ऑपरेशन चलाया गया था, जिसमें शक्ति कपूर का नाम निकलकर सामने आया था। इस दौरान वे एक लड़की को फिल्म में रोल दिलवाने के एवज में उसका फायदा उठाना चाहते थे। कहा जाता है कि उनकी ये हरकत कैमरे में कैद हो गई थी। इसके बाद पूरी इंडस्ट्री में तहलका मच गया था। हालांकि, एक्टर ने दावा किया था कि यह उनके खिलाफ साजिश है और टेप फर्जी है। 

लगा दिया गया था प्रतिबंध

स्टिंग ऑपरेशन के तहत शक्ति कपूर का नाम आने के बाद फिल्म एंड टीवी प्रोड्यूसर्स गिल्ड ऑफ इंडिया की ओर से उन पर फिल्मों में काम करने पर प्रतिबंध लगा दिया था। इस फैसले की सदस्यता यश चोपड़ा, सुभाष घई और अमित खन्ना ने निभाई थी। इसके बाद कास्टिंग काउच कॉन्ट्रोवर्सी पर एक्टर ने पूरी फिल्म इंडस्ट्री से माफी मांगी थी। उनके सभी बयानों को तोड़-मरोड़कर पेश किया गया था।

Leave a Comment