47 की उम्र में ऐसी दिखने लगी ‘कसूर’ की एक्ट्रेस, शादी के 6 साल बाद बनी थी जुड़वा बेटियों की मां

फिल्म ‘कसूर’ में काम कर चुकीं एक्ट्रेस और मॉडल लीजा रे पिछले कुछ वक्त से फिल्मों से दूर हैं। 47 साल की लीजा आखिरी बार 2017 में आई फिल्म ‘दोबारा’ में नजर आई थीं। हाल ही में लीजा ने अपनी एक फोटो सोशल मीडिया पर शेयर की है। इस फोटो में लीजा बिन मेकअप लुक में नजर आ रही हैं। फोटो के साथ लीजा ने लिखा- “ये मैं हूं, 47 साल की उम्र में। फ्री और बिना किसी मेकअप के। क्या हमारे भीतर इतनी हिम्मत है कि हम वैसे दिख सकें जैसे हम रियल में हैं? जब तक मैं यंग थी तब तक मुझमें ये हिम्मत नहीं थी।” लीजा ने आगे लिखा- ”हर कोई आपकी कीमत नहीं समझेगा, लेकिन अपनी स्किन की कहानी और अनुभव उन्हें बताओ। आपकी रियलिटी उन्हें पसंद आएगी। अपनी कीमत पहचानो।”

शादी के 6 साल बाद जुड़वां बेटियों की मां बनीं लीजा :  मॉडल और एक्ट्रेस लीजा रे सरोगेसी के जरिए 2 बेटियों की मां बनी है। बेटियों का जन्म जून, 2018 में जॉर्जिया में हुआ। उन्होंने बेटियों का नाम सूफी और सोलियल रखा है। अपनी खुशियां शेयर करते हुए लीजा ने कहा, 'बेटियों का ध्यान रखने के अलावा मुझे और भी कई चीज़ों को एक साथ मैनेज करना पड़ रहा है। जैसे खुद का ध्यान रखना, अपने काम को वक्त देना और दोस्तों के साथ-साथ पति और परिवार के साथ भी समय बिताना। मेरी लाइफ में ढेर सारे उतार-चढ़ाव आए हैं लेकिन इस वक्त मैं जिंदगी में आए इस बदलाव और प्यार का भरपूर मजा ले रही हूं। बता दें कि लिजा के घर ये खुशियां शादी के 6 साल बाद आईं।'' उन्होंने 2012 में ब्वॉयफ्रेंड जैसन देहनी से शादी की थी।

शादी के 6 साल बाद जुड़वां बेटियों की मां बनीं लीजा : मॉडल और एक्ट्रेस लीजा रे सरोगेसी के जरिए 2 बेटियों की मां बनी है। बेटियों का जन्म जून, 2018 में जॉर्जिया में हुआ। उन्होंने बेटियों का नाम सूफी और सोलियल रखा है। अपनी खुशियां शेयर करते हुए लीजा ने कहा, ‘बेटियों का ध्यान रखने के अलावा मुझे और भी कई चीज़ों को एक साथ मैनेज करना पड़ रहा है। जैसे खुद का ध्यान रखना, अपने काम को वक्त देना और दोस्तों के साथ-साथ पति और परिवार के साथ भी समय बिताना। मेरी लाइफ में ढेर सारे उतार-चढ़ाव आए हैं लेकिन इस वक्त मैं जिंदगी में आए इस बदलाव और प्यार का भरपूर मजा ले रही हूं। बता दें कि लिजा के घर ये खुशियां शादी के 6 साल बाद आईं।” उन्होंने 2012 में ब्वॉयफ्रेंड जैसन देहनी से शादी की थी।

एक फिल्म से बदल गई थी लीजा की लाइफ :  लीजा के मुताबिक, 2005 में आई कैनेडियन फिल्म वॉटर ऑस्कर के लिए नॉमिनेट हुई। उस फिल्म के बाद मेरी जिंदगी बदल गई। लीजा ने कहा था- लगातार शूटिंग का प्रेशर और खुद के लिए समय नहीं निकाल पाती थी। इस बीच मेरी तबीयत कई बार बिगड़ी। मगर मैंने अपनी बॉडी को स्विच ऑफ कर दिया। कुछ समय बाद टोरंटो में ब्लड कैंसर होने का पता चला। उस वक्त डॉक्टर शांत थे। मगर मैंने उन्हें कहा, चुप्पी तोड़ें और मुझसे खुलकर इस बीमारी पर बात करें। तब डॉक्टर ने कहा कि आपके पास कुछ ही समय बचा है। तभी मैंने सोच लिया था मरने से पहले जिंदगी को जीभर के जीना है।

एक फिल्म से बदल गई थी लीजा की लाइफ : लीजा के मुताबिक, 2005 में आई कैनेडियन फिल्म वॉटर ऑस्कर के लिए नॉमिनेट हुई। उस फिल्म के बाद मेरी जिंदगी बदल गई। लीजा ने कहा था- लगातार शूटिंग का प्रेशर और खुद के लिए समय नहीं निकाल पाती थी। इस बीच मेरी तबीयत कई बार बिगड़ी। मगर मैंने अपनी बॉडी को स्विच ऑफ कर दिया। कुछ समय बाद टोरंटो में ब्लड कैंसर होने का पता चला। उस वक्त डॉक्टर शांत थे। मगर मैंने उन्हें कहा, चुप्पी तोड़ें और मुझसे खुलकर इस बीमारी पर बात करें। तब डॉक्टर ने कहा कि आपके पास कुछ ही समय बचा है। तभी मैंने सोच लिया था मरने से पहले जिंदगी को जीभर के जीना है।

कैंसर से जीती थी जंग :  'सत्या', 'भूत', 'कसूर' और 'सरकार' जैसी फिल्मों में नजर आ चुकीं लीसा का जन्म 4 अप्रैल 1972 को टोरंटो में हुआ था। 16 साल की उम्र में मॉडलिंग से अपना करियर शुरू करने वाली लीसा की जिंदगी उस समय बदल गई थी, जब उन्हें कैंसर का पता चला। लीसा ने 2009 में टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के दौरान सबको बताया कि वे मल्टीपल मायलोमा नामक कैंसर से पीड़ित हैं। लीसा ने 2010 में स्टेम सेल ट्रांसप्लांट के बाद कैंसर से निजात पाई थी। कैंसर से जंग जीतने के बाद वे पैच टाउन (2011), इश्क फोरएवर (2016) और वीरप्पन (2016) जैसी फिल्मों में नजर आई हैं।

कैंसर से जीती थी जंग : ‘सत्या’, ‘भूत’, ‘कसूर’ और ‘सरकार’ जैसी फिल्मों में नजर आ चुकीं लीसा का जन्म 4 अप्रैल 1972 को टोरंटो में हुआ था। 16 साल की उम्र में मॉडलिंग से अपना करियर शुरू करने वाली लीसा की जिंदगी उस समय बदल गई थी, जब उन्हें कैंसर का पता चला। लीसा ने 2009 में टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल के दौरान सबको बताया कि वे मल्टीपल मायलोमा नामक कैंसर से पीड़ित हैं। लीसा ने 2010 में स्टेम सेल ट्रांसप्लांट के बाद कैंसर से निजात पाई थी। कैंसर से जंग जीतने के बाद वे पैच टाउन (2011), इश्क फोरएवर (2016) और वीरप्पन (2016) जैसी फिल्मों में नजर आई हैं।

1990 के दशक में बॉम्बे डाइंग के विज्ञापनों में बतौर मॉडल दिखने के बाद लीजा रातोंरात मशहूर हो गई थीं। 2001 में फिल्म 'कसूर' से उन्होंने बतौर एक्ट्रेस बॉलीवुड में कदम रखा।

1990 के दशक में बॉम्बे डाइंग के विज्ञापनों में बतौर मॉडल दिखने के बाद लीजा रातोंरात मशहूर हो गई थीं। 2001 में फिल्म ‘कसूर’ से उन्होंने बतौर एक्ट्रेस बॉलीवुड में कदम रखा।

खुद को 'कैंसर ग्रैजुएट' मानने वाली लीजा कहती हैं कि "वक्त हमारे जीवन के अनमोल पलों का एक माप है। एक कैंसर ग्रैजुएट के रूप में मैं समय की कीमत पहले से कहीं ज्यादा समझती हूं। आज दुनिया में सबसे अधिक कीमती चीज समय है।

खुद को ‘कैंसर ग्रैजुएट’ मानने वाली लीजा कहती हैं कि “वक्त हमारे जीवन के अनमोल पलों का एक माप है। एक कैंसर ग्रैजुएट के रूप में मैं समय की कीमत पहले से कहीं ज्यादा समझती हूं। आज दुनिया में सबसे अधिक कीमती चीज समय है।

Leave a Comment