शेखों की जमीं पर इंडिया ने पाकिस्तान को खूब पटका था ! जानिए

आइए एक नज़र डालते हैं 1984 में भारत और पाकिस्‍तान के बीच हुए एशिया कप पर जिसमें भारत ने पाक को हराया था।

अब तक वनडे क्रिकेट को आए हुए एक दशक से भी ज्‍यादा समय हो चुका है। 1984 में एशियन क्रिकेट काउंसिल ने एशिया कप शुरु किया था। तब एशिया में तीन ही क्रिकेट प्‍लेइंग नेशंस थे। इसमें पहला भारत था जिसने 1983 में वर्ल्‍ड कप जीता था और दूसरा था श्रीलंका जिसने पहला टेस्‍ट 1982 में खेला था और तीसरा था पाकिस्‍तान जिसकी टीम बड़ी तेजी से बढ़ रही थी। 6 अप्रैल, 1984  को इस टूर्नामेंट की शुरुआत हुई थी। इसका फॉरमेट काफी छोटा था – तीनों टीमों को एक-दूसरे के साथ एक मैच खेलना था।

एशिया कप

पहला मैच पाकिस्‍तान और श्रीलंका के बीच हुआ था। यहां श्रीलंका से पाक को हार का सामना करना पड़ा था। अब अगला मैच श्रीलंका और भारत के बीच होना था। इस भारतीय टीम में कपिल देव, श्रीकांत, सैयद किरमानी और मोहिंदर अमरनाथ को शामिल नहीं किया गया था जिनकी बदौलत भारत वर्ल्‍ड कप जीती थी। इस मैच में भारतीय टीम ने श्रीलंका को 41 ओवरों में 96 रन पर भी निपटा दिया था।

फाइनल मैच भारत और पाकिस्‍तान के बीच होना था। इस मैच में इंडिया ने 188 रनों का स्‍कोर बनाया और ओपनर सुरिंदर खन्‍ना एक बार फिर क्रिकेट की दुनिया में चमक उठे। उन्‍होंने 72 गेदों में 56 रन बनाए। इस दौरान संदीप पाटिल ने 43 और कैप्‍टन सुनील गावस्‍कर ने 36 रन बनाए।

एशिया कप

इंडिया के सामने पाक टीम में इमरान खान और जहीर अब्‍बास सरीखे प्‍लेयर्स को भी रेस्‍ट दिया गया था। भारत के रोजर बिन्‍नी और रवि शास्‍त्री ने पाक के 3-3 विकेट लिए और पूरी टीम 40 ओवर में ही 134 रन पर ही आउट हो गई। इंडिया को इस मैच में 54 रन से जीत मिली थी।

इस एशियाई कप के तीन मैचों में सुरिंदर ने सबसे ज्‍यादा 107 रन बनाए थे और तीन विकेट लिए थे। इस टूर्नामेंट में सुरिंगदर को मैन ऑफ द मैच चुना गया था। उस वक्‍त उन्‍हें 5000 डॉलर का ईनाम भी मिला था। ये बहुत बड़ी राशि हुआ करती थी। तीनों टीमों को इस टूर्नामेंट से काफी पैसा कमाने को मिला था।

इस तरह 1984 में हुए एशिया कप में भारत ने पाकिस्‍तान को पछाड़ा था। भारत और पाक के बीच होने वाले क्रिकेट मैच को दर्शकों द्वारा सबसे ज्‍यादा पंसद किया जाता है। जब इन दोनों देशों के बीच मैच होता है तो ऐसा लगता है कि दोनों देशा के लोग अपना सारा काम छोड़कर टीवी पर मैच देखने लग जाते हैं और जो भी टीम जीतती है वहां पर दीवाली जैसा जश्‍न मनाया जाता है।

खुद इन दोनों देशों के क्रिकेटर्स भी इस बात से इनकार नहीं करते हैं कि उनके देश में पाक और भारत के मैच को लेकर सबसे ज्‍यादा जोश और उत्‍साह देखने को मिलता है।

18 Thoughts to “शेखों की जमीं पर इंडिया ने पाकिस्तान को खूब पटका था ! जानिए”

  1. Write more, thats all I have to say. Literally, it seems as though you relied on the video to make your point. You obviously know what youre talking about, why throw away your intelligence on just posting videos to your site when you could be giving us something informative to read?

  2. It’s really a cool and helpful piece of info. I’m glad that you shared this helpful info with us. Please keep us up to date like this. Thanks for sharing.

  3. Wow, this paragraph is nice, my younger sister is analyzing these kinds of things, so I am going to convey her. Glennis Rainer Dennard

  4. If some one wants to be updated with latest technologies therefore he must be visit this web site and be up to date everyday. Ki Ari Armelda

  5. Great blog! I am loving it!! Will be back later to read some more. I am taking your feeds also. Moll Roderic Farrica

  6. You are my aspiration , I have few blogs and very sporadically run out from to brand. Kerry Eugenio Loria

  7. Pretty! This has been an incredibly wonderful post. Angele Rip Tiphani

  8. After all, we should remember compellingly reintermediate mission-critical potentialities whereas cross functional scenarios. Phosfluorescently re-engineer distributed processes without standardized supply chains. Quickly initiate efficient initiatives without wireless web services. Interactively underwhelm turnkey initiatives before high-payoff relationships. Holisticly restore superior interfaces before flexible technology. Zilvia Kip Nanine

  9. Hi there. I discovered your web site by way of Google at the same time as searching for a related matter, your website got here up. It appears to be good. I have bookmarked it in my google bookmarks to visit then. Chad Mickey Johst

  10. it all at the moment but I have saved it and also added your RSS feeds, Lara Mikael Aulea

  11. Sweet site, super pattern, really clean and utilise friendly. Brooke Hyatt Idelia Lorry Roddie Menzies

  12. Yes! Finally someone writes about davies718.onlinebrs.com. Herminia Skipper Taffy

  13. I have learn a few good stuff here. Certainly worth bookmarking for revisiting. Stacey Waldon Rifkin

  14. You could definitely see your expertise within the paintings you write. The sector hopes for more passionate writers such as you who are not afraid to say how they believe. Always follow your heart.

  15. It does not approach me. Who else, what can prompt?
    squirtinghdtube

  16. mаgnificent pսblish, very informаtive. I ponder wһy the ߋther specialists
    of this sector don’t realize this. You must continue your writing.

    I am sure, you hazve a huge readers’ base already!

    My wweb site payday loans montel williams

Leave a Comment