मैरीकॉम ने क्वालीफाई करने के लिए 1 घंटे में घटाया था 2 किलो वजन, जानिए

मैरीकॉम – पांच बार वर्ल्ड चैंपियनशिप का खिताब, ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल और एशियाड में गोल्ड मेडल अपने नाम कर चुकी मैरीकॉम ऐसे ही विश्वचैंपिंयन नहीं है। उन्होंने अपने लिए काफी मेहनत की है। एक पदक उनके लिए केवल एक पदक नहीं होता है। वह इस पदक को जीतने के लिए अपनी जान लगा देती हैं। जैसा कि उन्होंने हाल ही में किया है।

हाल ही में वह पोलैंड के गिलवाइस में 13वें सिलेसियन मुक्केबाजी टूर्नामेंट भाग लेने के लिए गईं थीं और उन्होंने वहां इस टूर्नामेंट में भाग लेने के लिए केवल 1 घंटे में 2 किलो वजन घटाया।

मैरीकॉम

ये है मैरीकॉम का जुनून

इसे ही जुनून कहते हैं। एक कहावत है, जब आप मैं जुनून हो तो आप बड़े से बड़ा रिकॉर्ड ब्रेक कर सकते हैं। यह कहावत मैरीकॉम पर सटीक बैठती है। मैरीकॉम ने केवल क्वालीफाई करने के लिए चार घंटे में दो किलो वजन कम किया था। पौलेंड का सफर पूरा कर जहां सारे
खिलाड़ी आराम कर रहे थे वहीं मैरीकॉम अपना वजन घटाने के लिए पसीना बहा रही थी।

मैरीकॉम

जीता गोल्ड मेडल भी

मैरीकॉम उनकी मेहनत का फल भी मिला। उन्होंने जिस टूर्नामेंट में केवल क्वालीफाई करने के लिए चार घंटे में दो किलो वजन घटाया थो उस टूर्नामेंट में वह गोल्ड मेडल जीतने में सफल भी रहीं।

जब पोलैंड पहुंची तो ज्यादा था वजन

पोलैंड के गिलवाइस में हाल ही संपन्न हुए 13वें सिलेसियन मुक्केबाजी टूर्नामेंट में भाग लेने के लिए जब मैरीकॉम वहां पहुंची तो उनका वजन बढ़ा हुआ था। टूर्नामेंट शुरू होने में केवल चार घंटे का समय बाकी था। इसलिए सारे खिलाड़ी आराम करने लगे। लेकिन मैरीकॉम ने कसरत करनी शुरू कर दी। क्योंकि वहं पहुंचने पर उनका वजन दो किलो बढ़ा हुआ था।

मैरीकॉम

एक घंटे तक कूदी रस्सी

लंबी यात्रा के बाद पोलैंड पहुंचते ही भारतीय मुक्केबाज एमसी मैरीकोम ने थकान होने के बावजूद रस्सी कूदना शुरू कर दिया था। उन्होंने एक घंटे तक लगातार रस्सी कूदी। जिसके बाद जब वजन नापा तो उनका वजन कम हो चुका था। जिसके बाद उन्होंने लगातार और रस्सी कूदनी शुरू की और दो घंटे बाद वह क्वालीफाई करने के योग्य थीं।

मैरीकॉम

जीता साल का तीसरा गोल्ड मेडल

48 किलोग्राम भार वर्ग में वे भाग लेने के लिए पोलैंड पहुंची थीं। उन्होंने क्वालीफाई करने के लिए दो किलो वजन चार घंटे में कम भी किया और टूर्नामेंट में स्वर्ण पदक भी अपने नाम किया, जो इस साल का उनका तीसरा पीला तमगा है।पांच बार की विश्व चैम्पियन मैरीकॉम ने स्वदेश वापसी के बाद उन्होंने कहा, ‘हम लगभग तीन-साढ़े तीन बजे सुबह पोलैंड पहुंचे और टूर्नामेंट के लिए वजन कार्यक्रम सुबह साढ़े सात बजे होना था। मुझे 48 किलोग्राम भार वर्ग में भाग लेना था और मेरा वजन उससे दो किलो ज्यादा था।’

ओलंपिक कांस्य पदकधारी 35 साल की इस मुक्केबाज ने कहा, ‘मेरे पास वजन कम करने के लिए लगभग चार घंटे का समय था। ऐसा नहीं करने पर मैं डिस्क्वालीफाई हो जाती। मैंने लगातार एक घंटे तक रस्सी कूदी और फिर मैं वजन नापने के लिए तैयार थी’।

13 Thoughts to “मैरीकॉम ने क्वालीफाई करने के लिए 1 घंटे में घटाया था 2 किलो वजन, जानिए”

  1. naturally like your web site however you have to check the spelling on several of your posts. Several of them are rife with spelling issues and I find it very bothersome to inform the truth however I’ll definitely come again again.

  2. Aw, this was a very nice post. In concept I would like to put in writing like this moreover – taking time and precise effort to make a very good article… but what can I say… I procrastinate alot and by no means appear to get one thing done.

  3. Just wanna state that this is very beneficial, Thanks for taking your time to write this.

  4. This is my first time pay a quick visit at here and i am truly impressed to read everthing at one place. Noami Lewiss Kalli

  5. My spouse and I stumbled over here different web page and thought I may as well check things out. Glory Reese Rochester

  6. How do those of us in the beta group get the iOS update? How about for MacOS? Nadean Nate Gamber

  7. A lot of thanks for your whole labor on this website. Debby delights in conducting investigations and it is obvious why. I notice all concerning the dynamic way you present very helpful secrets through this blog and therefore strongly encourage participation from the others about this topic while our own girl is now becoming educated a whole lot. Enjoy the rest of the year. You are always conducting a very good job. Agace Upton Starkey

  8. Lorem ipsum dolor sit amet, consectetur adipisicing elit. Laudantium eius, sunt porro corporis maiores ea, voluptatibus omnis maxime Gilemette Cesare Kleper

  9. I love looking through an article that can make men and women think. Vi Hillyer Nabal

  10. Hi there friends, pleasant paragraph and good urging commented at this place, I am really enjoying by these. Cristabel Boyce Clovah

  11. Very good point which I had quickly initiate efficient initiatives without wireless web services. Interactively underwhelm turnkey initiatives before high-payoff relationships. Holisticly restore superior interfaces before flexible technology. Completely scale extensible relationships through empowered web-readiness. Lacey Abram Plumbo

  12. I really wanted to post a brief note to be able to appreciate you for these lovely techniques you are giving out here. My time-consuming internet investigation has at the end been compensated with incredibly good content to go over with my classmates and friends. I would say that many of us website visitors actually are very much fortunate to dwell in a really good website with very many outstanding professionals with helpful tactics. I feel very much happy to have encountered your website and look forward to tons of more enjoyable times reading here. Thanks once again for everything. Evangelia Krishna Ellison

Leave a Comment