महिला क्रिकेट इतिहास के बारे में ये बातें नहीं जानते होंगें आप

महिला क्रिकेट इतिहास – भारत ही नहीं बल्कि दुनियाभर में क्रिकेट का तगड़ा क्रेज़ देखने को मिलता है। शायद यही वजह है कि अब महिलाओं के क्रिकेट की भी शुरुआत हो गई है।

पहले सिर्फ पुरुष ही क्रिकेट खेला करते थे लेकिन अब महिलाओं ने भी मैदान में उतरना शुरु कर दिया है।

आज हम आपको महिला क्रिकेट इतिहास के बारे में कुछ दिलचस्‍प बातें बताने जा रहे हैं जिनके बारे में जानकर आपको हैरानी होगी।

तो चलिए जानते हैं महिला क्रिकेट इतिहास के बारे में दिलचस्‍प बातें।

महिला क्रिकेट इतिहास

महिला क्रिकेट इतिहास –

  • बहुत कम लोग इस बात को जानते हैं कि सबसे पहली बार 26 जुलाई, 1745 को महिला टीम द्वारा क्रिकेट खेला गया था।
  • इसके बाद सबसे पहली बार इंग्‍लैंड में महिला टीम बनी थी जिसका नाम इंग्‍लैंड लेडी क्रिकेटर रखा गया था और पहला महिला वर्ल्‍डकप भी इंग्‍लैंड में ही खेला गया था। अंतर्राष्‍ट्रीय क्रिकेट परिषद में बाद में इसका विलय कर दिया गया था।
  • महिला क्रिकेट टीम का पहला टेस्‍ट मैच साल 1943 में इग्‍लैंड वुमेन टीम और ऑस्‍ट्रेलिया वुमेन टीम के बीच खेला गया था।
  • पहली बार महिला क्रिकेट विश्‍व कप की बात करें तो ये 1973 में इंग्‍लैंड में आयोजित किया गया था।
  • महिला क्रिकेट टीम को भारत में वुमेन इन ब्‍लू के नाम से भी जाना जाता है। महिला क्रिकेट टीम ने अपना पहला टेस्‍ट मैच 1976 में वेस्‍टइंडीज़ के खिलाफ बैंगलोर में खेला था।
  • इनका पहला एकदिवसीय मैच 1978 में कोलकत्ता में इंग्‍लैंड महिला क्रिकेट टीम के खिलाफ खेला गया था।
  • महिला क्रिकेट टीम ने अपना पहला 20-20 मैच 5 अगस्‍त 2006 को डर्बी में इंग्‍लैंड के खिलाफ खेला गया था।
  • साल 2002 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ विदेशी भूमि पर अपना पहला टेस्‍ट मैच भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने जीता था।
  • पहली बार इंडियन वुमेन क्रिकेट टीम ने एशिया कप साल 2004 में जीता था। अंजुम चोपड़ा ओडीआई में शतक लगाने वाली पहली भारतीय महिला क्रिकेट खिलाड़ी बनी थीं।
महिला क्रिकेट इतिहास

वैसे तो अब महिला क्रिकेट को भी लोग बहुत पंसद करते हैं लेकिन अभी भी क्रिकेट प्रेमियों पर पुरुष किक्रेट का खुमार ज्‍यादा रहता है। इसकी एक वजह ये भी हो सकती है कि पुरुष क्रिकेट बहुत पुराना है जबकि महिलाओं ने अभी कुछ समय पहले ही खेलना शुरु किया है।

अब लगता है कि महिला क्रिकेट टीम को ज्‍यादा लोकप्रियता पाने में थोड़ा समय लगेगा। वैसे भारत में तो क्रिकेट खेलने वाली महिलाओं को खूब सम्‍मान मिल रहा है। भारतीय महिला क्रिकेटर्स तो पुरुष क्रिकेटर्स की तरह विज्ञापनों में भी नज़र आने लगी हैं।

भारत में क्रिेकेटर्स को बहुत प्‍यार मिलता है और उम्‍मीद है कि महिला क्रिकेटर्स को भी देश और दुनिया द्वारा सराहा जाएगा। इसी आशा से महिला क्रिकेट टीम खूब मेहनत कर रही है। पहले के समय में क्रिकेट को महिलाओं के लिए नहीं समझा जाता था और लड़के ही इस खेल में अपना हाथ आज़माते थे लेकिन अब समय के साथ सोच भी बदल गई है और क्रिकेट की दुनिया में महिलाओं ने ना सिर्फ कदम रखा है बल्कि बहुत अच्‍छा नाम भी कमा रही हैं।

12 Thoughts to “महिला क्रिकेट इतिहास के बारे में ये बातें नहीं जानते होंगें आप”

  1. Usually I don’t read post on blogs, but I wish to say that this write-up very forced me to try and do it! Your writing style has been amazed me. Thanks, quite nice post.

  2. You can subscribe for a month, it on his own PSN account. Adi Tomlin McClelland

  3. If you look at the revenue for this film, it really is not that impressive, as it cost nearly as much as it made. Genna Nestor Dopp

  4. Piece of writing writing is also a fun, if you know afterward you can write otherwise it is complicated to write. Mikaela Rowen Scrivenor

  5. Takipçi satın almak için tıklayın. Hemen tıklayın ve takipçi satın al sayfamızdan takipçi satın alın.

  6. Ridiculous story there. What happened after? Thanks! Elladine Car Modestia

  7. I just could not go away your web site prior to suggesting that I extremely loved the usual information an individual supply for your visitors? Is going to be back regularly to check out new posts. Faith Malvin Pooley

  8. Just wanna comment on few general things, The website design and style is perfect, the subject material is really superb : D. Lonna Selby Bethezel

  9. I conceive this web site holds some rattling wonderful information for everyone : D. Letti Claudius Floyd

  10. Mauris elementum accumsan leo vel tempor. Sit amet cursus nisl aliquam. Aliquam et elit eu nunc rhoncus viverra quis at felis. Chrystel Aubert Jilleen

  11. home improvement is necessary because from time to time we need to adjust the styles of our homes~ Auria Earl Pettit

Leave a Comment