जानिए सड़क पर लिट्टी-चोखा बेचने वाला शख्स कैसे बन गया सुपरस्टार

खेसारी लाल यादव – भोजपुरी सिनेमा का क्लास कभी भी बॉलीवुड या अन्य रीजनल सिनेमा के बराबर नहीं रहा है, उसे हमेशा से लो कैटेगरी ही समझा गया और वहा के कलाकारों को भी उतनी लोकप्रियता नहीं मिली, लेकिन अब वक्त बदल रहा है और भोजपुरी कलाकार भी सुपरस्टार बन रहे हैं.

ऐसे ही एक कलाकार है खेसारी लाल यादव.

डिजीटल क्रांति के इस दौर में यूट्यूब से कैसी कामयाबी की इमारत लिखी जा सकती है ये कोई खेसारी से पूछे, क्योंकि वो यूट्यूब के सुपरस्टार बन चुके हैं. उनके गाने आते ही यूट्यूबर तुरंत हिट हो जाते हैं. आपको बता दें कि भारत में मौजूद गायकों में खेसारी का चैनल YouTube पर मौजूद अन्य गायकों के मुकाबले में दूसरे नंबर पर है. खेसारी लाल यादव को 6.67 लाख लोग सब्सक्राइब करते हैं और इसके अलावा खेसारी के गानों से भरा ‘वेव म्यूज़िक’ सब्सक्राइबर्स के मामले में भारत का छठे नंबर का चैनल है, जिसे 1 करोड़ से ज्यादा लोग देखते हैं और हर मिनट 3 सब्सक्राइबर्स के रेट से इनके फॉलोवर्स बढ़ रहे हैं.

इस बात से आप अंदाज़ा लगा सकते हैं कि खेसारी कितनी बड़ी सेंसेशन है. उनके गानों को अपलोड होने के कुछ घंटो के अंदर ही लाखों व्यूज़ मिल जाते हैं और यही साबित करता है कि एक बड़ा फैन बेस है जो इस डिजिटल सुपरस्टार का दीवाना है. वैसे खेसारी लाल यादव की कहानी किसी के लिए भी प्रेरणा का सबब बन सकती है.

खेसारी लाल यादव ने अपना पहला एलबम 22 हज़ार रुपए लगा कर रिकॉर्ड किया जो ज्यादा चला नहीं. खेसारी ने इससे हिम्मत नहीं हारी और एक बार फिर से पैसा जोड़कर अपना एक कैसेट निकाला जिसका वीडियो भी उन्होंने शूट किया. इस भोजपुरी गाने में खेसारी लाल यादव एक औरत बन कर नाचे थे. उनका कहना है, “अगर ये वीडियो हिट नहीं होता तो शायद वो फिर कोशिश नहीं कर पाते. लेकिन इस वीडियो को यूपी और बिहार के कुछ क्षेत्रों में सुना गया और उन्हें हिम्मत मिली. इसके बाद खेसारी ने पीछे मुड़कर नहीं देखा और आज खेसारी के एक वीडियो से उन्हें लाख रुपए सिर्फ यूट्यूब से मिल जाते हैं.”

भारत में यूट्यूब का बाज़ार और इसकी ऑडियंस तेज़ी से बढ़ी है. अब तो गांवों में भी लोग यूट्यूब देखने लगे हैं, तभी तो भोजपुरी सिनेमा की हर फिल्म अब YouTube पर रिलीज़ होती है और साल 2011 में सुपरहिट फिल्म ‘साजन चले ससुराल’ को 63 लाख बार देखा गया है. 5 लाख की बजट की फिल्मों से अपना करियर शुरु करने वाले खेसारी अब तक 30 से ज्यादा फिल्मों में काम कर चुके हैं और उनकी आने वाली फिल्म ‘नागदेव’ भारी बजट के साथ बन रही है. आज खेसारी सुपरस्टार बन गए हैं, लेकिन एक समय वो दिल्ली में डीएलएफ मॉल के पास रेहड़ी पर लिट्टी चोखा बेचा करते थे. यूट्यूब की बदौलत वो आज करोड़पति बन चुके हैं.

खेसारी लाल यादव जैसे सितारों की लोकप्रियता इस बात का सबूत है कि बॉलीवुड और हॉलीवुड के अलावा लोग अपनी बोली और भाषा के गाने भी पसंद करते हैं.

Leave a Comment