अपनी सहेली के पति से शादी रचाकर अभिनेत्री स्मृति मल्होत्रा बन गयी स्मृति ईरानी, ऐसे पाया भाजपा में मंत्री पद

स्मृति इरानी की बात करें तो आज इन्होने अभिनय से लेकर राजनीती तक अपनी पकड़ मजबूत कर ली है| आज इन्हें बतौर एक अभिनेत्री, एंकर और राजनेता के रूप में जाना जाता है| 23 मार्च, 1976 को जन्मी स्मृति की उम्र आज 42 साल है| हमेशा से मॉडलिंग की चाहत रखने वाली स्मृति ईरानी उस समय स्मृति मल्होत्रा थी जब पढ़ाई पूरी कर लगभग 20-22 की उम्र में वो मुंबई आई| लेकिन बेहद रुदिवादी परिवार से ताल्लुख होने के कारण उन्हें मॉडलिंग की छूट नही मिली जिसके चलते उन्हें अपना घर छोड़ना पड़ा|

शुरूआती वक्त में स्मृति की आर्थिक स्थिति काफी खराब थी| ऐसे में उनके मॉडलिंग में दिक्कतें आ रही थी| इन सब हालातों को देखते हुए इन्होने एक रस्टोरेंट में काम करना शुरू कर दिया| और वहीं पर स्मृति मल्होत्रा की एक बेहद रईस पारसी महिला से मुलाकात हुई और दोनों काफी ख़ास दोस्त बन गये| इस दोस्ती नें मानो स्मृति की सारी जिंदगी ही बदल दी| वह महिला सरल स्वभाव और शांत थी|

इस महिला का नाम मोना ईरानी था जो के बहुत ही अमीर और पैसों वाले खानदान की बहु थी| वह स्मृति को बहुत मानती थी| फ्लैट के किराए के पैसे न होने पर कई बार दोस्त को दिक्कत में देख मोना ही उनसे कहती थी के तुम मेरे घर चलो| और तो और मोना का कहना था के जब तक अच्छे से सेटल न हो जाओ तब तक यौम हमारे साथ ही रहना| लेकिन शायद उस वक्त मोना अनजान थी के अपनी इसी दोस्त के कारण उन्हें अपना घर छोड़ना पड़ेगा|

कई बार मोना के आग्रह पर स्मृति उनके साथ घर जाने को राज़ी हो गयी| घर पहुंचकर स्मृति को इस बात का पता चला के पारसी खानदान क्या चीज़ है| मोना के पति फ़िरोज़ शाह गोदरेज का भांजा था जिसका टाटा खानदान में शादी हुई थी| इनकी गोवा, मुम्बई, नवसारी और अहमदाबाद जैसे शहरों में करोडो की प्रॉपर्टी थी| इन सब को देखते हुए वो अपनी ही सहेली मोना के पति जुबिन ईरानी की तरफ नजदीकियां बढाने लगती हैं|

और इसके बाद धीरे धीरे स्मृति और जुबिन इतने करीब आ गये के मोना की बसी बसाई गृहस्ती उजड़ गयी| इस वक्त तक भी मोना जो के बेहद ही सरल स्वभाव वाली थी उसे आभास नही हो रहा था के उसकी जिंदगी में क्या होने जा रहा है| वहीँ दूसरी तरफ  पति जुबिन अभिनेत्री  के प्रेम जाल में फंसता चला गया और अंत में दोनों इतने करीब आ गये के जुबिन नें मोना को तलाक दे दिया|

इतना ही नही जुबिन नें इसके बाद स्मृति से साल 2001 में शादी भी कर ली जिसके बाद एक मामूली स्मृति मल्होत बन गयी स्मृति ईरानी और बेहद ही रईस और अमीर पारसी  खानदान की बहु| इसके बाद मोना को घर से निकलना पड़ा और वहीँ उनका यह गृहस्थ जीवन बर्बाद हो गया| आज की तारिख में स्मृति इरानी का एक बीटा भी है जिसका नाम ‘जौहर’ है|

Leave a Comment